You are here
Home > company information > नविनीकरण और स्थिरता के प्रति बायर की प्रतिबद्धता से कृषि का भविष्य सुनिष्चित करने मे मदद मिलेंगी। ( Bayer’s commitment to innovation and sustainability will help shape the future of farming )

नविनीकरण और स्थिरता के प्रति बायर की प्रतिबद्धता से कृषि का भविष्य सुनिष्चित करने मे मदद मिलेंगी। ( Bayer’s commitment to innovation and sustainability will help shape the future of farming )

 

बायर वर्तमान कठीन कारोबारी माहौल के बावजूद स्थायी कृषि के लीए नये समाधान देने के लीए अपने फसल विज्ञान विभाग मे काफी सारा निवेश जारी रखेगी। “हम कृषि बाजार मे लंबी अवधी के विकास की संभवनाओ के बारे मे विश्वास कर रहे हे और न केवल नई खोजो के लीए निवेश कर रहे हे, बलकी  2017 से 2020 के लीए पूंजीगत व्यय के लीए 2.5 अरब यूरो निर्धारित किये है,” लेवरकुसेन, जर्मनी मे “कृषि का भविष्य संवाद 2016” कार्यक्रम मे बोलते हुए कंपनी के बोर्ड के सदस्य और फसल विज्ञान विभाग के मुख्या श्री लियाम कोंडोन का कहना है। “अनुसंधान और विकास के साथ साथ बुनियादी ढाचे मे सालाना 1 अरब से ज्यादा युरो का निवेश के साथ नई प्रोडक्ट जो की पाईपलाईन मे है, ईन सब को मिला के दुनीया भर के उत्पादको की चुनौती पूर्ण जरूरतो को पूरा करने मे मदद मिलेगी।”

कृषि का भविष्य संवाद 2016 कार्यक्रम मे कृषि के भविष्य के लीए विशेषज्ञो द्रारा सेटेलाईट टेक्नोलोजी की मदद से कैसे छोटे समूहो की चुनौतीयो का समाधान कर शके ईस बारे मे अलग अलग कोनो से विस्तृत चर्चा की जा रही है। “स्थायी कृषि के लीए अनुसधान की पूरी प्रणाली को एकीकृत करने का हमे प्रयास करना चाहिए-सहयोग ही मुख्य चाबी है,” एसा कोंडोन ने कहा। विविध मंचो से विशेषज्ञो ने कृषि की चुनौतीया के अलग अलग कोनो से जेसे की कृषिविषयक, कृषि पर्यावरण, नियामक और सामाजीक द्रष्टी पर चर्चा कर रहे है।

अपने भाषण के दौरान कोंडोन ने बायर के फसल विज्ञान विभाग के 2016 के वर्तमान द्रष्टीकोण की पूष्टी की “लगातार कमजोर बाजार के माहौल मे फसल विज्ञान के लगातार बेहतर प्रदर्शन से ही बीक्री बढा सकते है।”

0

अनुसंधान और विकास-2015 से 2020 की पाईपलाईन संयुक्त रूप से बीक्री को 5 अरब युरो तक ले जा सकते है।

फसल विज्ञान के द्रारा 2015 से 2020 के बीच जो उत्पाद शुरु कीये जायेगे उसे कोंडोन ने रेखांकित किया, और 5 अरब से अधिक बीक्री पर प्रकाश डाला। 2020 से अागे, अनुसंधान एवं विकास संगठन 20 से ज्यादा रासायणीक फसल सुरक्षा अनुसंधानो के लक्ष्य के साथ काम कर रहा है, 6 लक्ष्य जैविक फसल सुरक्षा के लीए और 8 विशेषता के लीए। कोंडोन ने अनुसंधान और विकास के लीए अपनी प्रतिबद्धता की पूष्टी की “बीक्री का 10 प्रतिसत के करीब अनुसंधान और विकास के लीए खर्च होगा जो बायर को उद्योग के अग्रणी स्तर पर बनाये हुए है। कृषि के उतार चढाव वाले घटना चक्र के बावजूद, हमे लंबी अवधी के लीए देखना चाहिए क्यूंकी हमे नये उत्पाद के विकास के लीेए 10 साल लगते है।

डीजीटल कृषि उत्पादो को रोल आउट करना शुरु कर दीया।

उपस्थीतगण को संबोधित करते हुए लेवरकुसेन संचार केन्द्र बेकोम, मे अपने भाषण के दौरान डीजीटल कृषि के उभरते हुए क्षेत्र मे कंपनी के प्रयासे के बारे मे बताया। कंपनी 2015 से 2020 के बीच डीजीटल कृषि मे कम से कम 20 मिलियान युरो निवेश करने के लीए प्रतिबध्ध है और वर्तमान मे 10 देशो मे डीजीटल कृषि उत्पाद बेच रहे है या फीर परीक्षण कर रहे है उसे और विस्तृत करना है।

ईस के अतिरिक्त कंपनी ने चार “फोरवर्डफार्म” के साथ साजेदारी की हे जो स्थायी कृषि की सर्वोत्तम प्रथाओ को दर्शाता है, जीन मे से कई डीजीटल कृषि के क्षेत्र मे अग्रणी है। फोरवर्ड फार्म एक पूरी तरह चालू फार्म हे जो की खेत मे आने वाली हररोज की चुनौतियो का स्थायी समाधान देता है। बायर 2018 तक हर मुख्य बाजार मे फोरवर्ड फार्म  को लागू करना चाहती है।

कैसे कीसान उपभोक्ता की मदद कर शके उसे बेहतर समजने की आवश्यक्ता है।

liam-condon-180x249

“आज का उपभोक्ता उनका भोजन कहा से आता हे उस मे रूचि रखता है, लाकीन उस से पहले फसल केसे विकसित की जाती हे उस मे रूचि रखता है,” एसा कोंडोन ने कहा। “हम अपने साधनो के साथ हमारे कीसानो को भोजन उत्पन करने मे मदद करे, तब हम उपभोक्ताओ को ताजा, सुरक्षित और पोष्टीक भोजन कैसे आधुनीक खेती के द्रारा मिलता हे ये बता सकते है। ईस मंच से हम जूडे हे क्यूंकी  बिना स्वार्थ के स्थायी समाधान ढुंढने के साथ साथ दुनीया भर मे फेली भूख और कुपोषण की समस्या के साथ पर्यावरण की सुरक्षा और सामाजीक सामानता के लीए।”

“सामान्य तौर पर मांग भूतकाल से अधिक है। ये सिर्फ ज्यादा लोगो को खीलाने के लीए पैदावार बढाने से ही नही, बलकी पर्यावरण की सुरक्षा और जैव विविध की सुरक्षा से जूडा है। अनुसंधान और स्थायीता उपभोक्ता और पर्यावरण के फायदे के लीए है,” कोंडोन ने कहा।

कोंडोन ने निष्कर्ष निकाला की “कृषि की चुनौतिया का समाधान निकाल ना कीसी एक कंपनी, संस्था और देश के लीए बहुत बडी मुश्कील है। हम जीन कृषि की चुनौतीयो का सामना कर रहे हे उसे निपट ने के लीए हमे सबसे अच्छा उपलब्ध सहयागी का सहयोग करना होगा। कृषि का भविष्य संवाद 2016 का उदेश्य ईन भागीदारो के बीच चर्चा को प्रोत्साहित करना और बेहतर समाधान विकसित करना और सकारात्मक खेती के भविष्य को सुनिश्चित करना है।”

Leave a Reply

Top